अंधेरी रात, तूफ़ाने तलातुम, नाख़ुदा गाफ़िल।

संसार की नाव में यात्रा तो सुरक्षित है क्योंकि नाव इस किनारे से बंधी है। लेकिन ज़्यादा से ज़्यादा नदी की बीच धार तक ही जा सकती है। और वहाँ यदि यह तूफ़ान में फँसे तो यह रस्सी जो सुरक्षा देती थी यही मौत का कारण बन जाती है। इसी को नाख़ुदा गाफ़िल कहा है। फ़र्क़ सिर्फ़ इतना है कि मैंने मँझधार में जाकर किश्ती को छोड़ दिया और अपने ऊपर भरोसा रखा कि यदि हम ग़लत कदम नहीं उठाएँ तो हमको कोई सही जगह पहुँचने से नहीं रोक सकता।

होंश

This post is in Hindi about awareness meditation as advices by Buddha and Mahavir. Osho here describe in detail about how to imbibe it in our life so that naturally it starts flowing through us.

A must watch video.

How healthcare workers are living since the outbreak of COVID-19 virus, is shown in a video prepared by DainikBhaskar for AAP.

It rains equally on all- Jesus

Taken from Mathew’s bible, this statement of Jesus is very important. It’s deeper meanings are tried to explain and how to actually achieve that state is also tried to explain.

New logo and its meaning.

I have tried to explain concept behind new logos designed for this blog site. These exactly depicts the human life and his/her destiny in simplest form.